अपने आप को अध्ययन के लिये कैसे प्रेरित करें।How to motivate yourself to study.

Table of Contents

अपने आप को अध्ययन के लिये कैसे प्रेरित करें। (How to motivate yourself to study ?)आज के समय का सबसे महत्तवपूर्ण सवाल बन गया है, अपने आप को अध्ययन के लिये कैसे प्रेरित करें।

(How to motivate  yourself  to study?) आज के  समय में विद्यार्थियों को ज्यादा जरुरत है, प्रेरणा की।  बदलते माहौल में  जहाँ शिक्षा का तरीका बदल गया है, online study  ही शिक्षा ग्रहण करने का एक ज़रिया बन गया है।

बहुत जरुरी है concentration बनाये रखना। इस article  में  हम  students  ही नहीं बल्कि हर Business  से जुड़े व्यक्तियों के लिये कुछ  महत्तवपूर्ण  जानकारी एकत्रित की है  ताकि हर  कोई  अपना  काम पूरी लग्न, इच्छा और खुशी से कर सके।

व्यवहारिक तौर पर कुछ तरीके अपनाये जा सकते हैं जिससे की हम अपनी काम करने की इच्छा और  क्षमता को बढ़ा सकते हैं। आइये विस्तर से  नज़र डालते हैं कुछ मुख्य पहलुओं पर ।

अपनी कमज़ोरी को समझे (Discover why you procrastinate)

How to motivate yourself to study  

 अक्सर होता है हर किसी के साथ जब भी हम कोई काम करने जाते हैं या पढ़ाई करने जाते हैं तो किताबें तो सामने होती है, पर वक़्त बीतता जाता है । समझ नहीं आता, कहाँ से शुरु करें। (How to motivate yourself to study)।

 इसका मुख्य कारण है,मोबाईल , जो हमारी नींद का बहुत बड़ा बाधक है। मोबाईल का प्रयोग भी दीमाग को, आँखों को, शरीर को थका देता है।

इसलिये मोबाइल की समय सीमा निर्धारित कीजिये और अपनी नींद और सेहत पर ध्यान दीजिये। क्योंकि पढ़ाई का मुख्य साधन मोबाइल ही है। उसका प्रयोग करने का समय निश्चित करना होगा।

अनुशासित रहें  (Build self-discipline)

व्यस्तता की मुश्किल घड़ी में  ज़िंदगी इतनी अस्त व्यस्त हो गई है कि  ना सोने का वक़्त, ना उठने का।खाने पीने का कोई वक़्त नहीं। पढ़ाई का कोई समय नहीं। पढ़ाई तो सबसे मुश्किल काम हो गया है, मन नहीं लगता पढ़ाई में।

इसलिये बहुत आवश्यक है,अपने लिये नियमावली निर्धारित करना। समय का मूल्य समझना।अनुशासन को समझना की ज़िंदगी में कितना जरुरी है।

अपने अंदर सकारात्मकता लाना। नियमों के साथ समय का भी उचित उपयोग करना और यही हमारी ज़िंदगी को एक दिशा देगा।और हम समझ पायेंगे कि (How to increase motivation to study)पढ़ाई के लिये motivation को कैसे बढायें।

सीखने की अच्छी आदतों का निर्माण (Build better study habits)

How to motivate yourself to study  

हर विद्यार्थी को अपने भविष्य के बारे में  सोचना होगा। अपने लक्ष्य निर्धारित करने होंगे। सिर्फ़ सपने देखने से कुछ नहीं  होता।

 जब तक उन पर  काम ना किया जाये।पढ़ाई के बिना कोई भी सफलता प्राप्त नहीं  कर सकता। स्वयं से बात करके हम काफ़ी हल निकाल सकते हैं।

अक्सर कुछ सवाल हमेशा परेशान करते हैं। ये विषय कितना मुश्किल है?क्या मैं पढ़ाई कर पाऊँगा। पढ़ाई में मेरा मन क्यूँ नहीं लगता।(How to motivate yourself to study)इस तरह के सवाल खुद से पूछिये, जवाब जरुर मिलेगा।

 और  अपनी समस्याओं का हल भी हम ढूंढ सकते हैं और पढ़ाई की अच्छी आदतों को अपना सकते हैं, एक नियमावली बनाकर।

पढ़ाई करने के नियम (Create a study routine and schedule relaxation)

How to motivate yourself to study  

जैसा की हमने बताया, विद्यार्थियों के लिये बहुत आवश्यक है, पढ़ाई के लिये नियम निर्धारित करना। ऐसा नहीं कि किताबें किसी भी टाईम पढ़ने बैठ जायें ओर घंटों तक बैठे रहें ।

ऐसे पढ़ाई करने का कुछ भी फायदा नहीं  है। समय व्यर्थ करने के सिवा और  कुछ नहीं है। इसलिये सबसे ज्यादा जरुरी है, अपनी हर विषय का पाठ्यक्रम निर्धारित करें और  एक Time table बनाये। हर विषय को उचित वक़्त दें। और  अपना करने का कार्य भी उचित रखें।

 इच्छाशक्ति से सब कुछ संभव हो सकता है। लगातार भी पढ़ना  नहीं  चाहिये, पढ़ाई के बीच में भी छोटे छोटे intervals होने चाहिये, जिससे कि  दिमाग फिर से ऊर्जावान हो जाये।

आपके life goal क्या हैं? (Be clear about why you want to get good grades)

 विद्यार्थी के जीवन में  पढ़ाई करना और अच्छे परिणाम लाना ही काफ़ी नहीं  होता। अगर आप ये ही नहीं जानते कि  आपको आगे करना  क्या है, क्या goals हैं ज़िंदगी के।

 तो हमार जीवन व्यर्थ है। हमारी पढ़ाई व्यर्थ है। तब प्रश्न उठता है, अपने आप, पढ़ाई  के लिये motivation कैसे बढायें?

(How to increase motivation to study) हमें जानना बेहद आवश्यक है कि हमारे जीवन का मुख्य लक्ष्य  क्या है?  जिस दिन  हमअपने जीवन  का लक्ष्य ढूंढ लेंगे, तब पढ़ाई भी आसाँ लगने लगेगी।

हम जानते हैं, हमें क्या करना है। क्या हमारे जीवन का उद्देश्य  है।फिर कोई  भी बाधा हमें नहीं  रोक सकती।

अनुकूल वातावरण का निर्माण (Optimize your Environment)

पढ़ाई के लिये अनुकूलित वातावरण होना चाहिये। ऐसे स्थान का प्रयोग करें जो शाँत हो..जहाँ लोगों का आवागमन कम हो। एक ऐसा स्थान जो पढ़ाई करने के लिये उपयुक्त हो।

 वातावरण सही होने पर भी इच्छाशक्ति का होना भी आवश्यक है ताकि हम पढ़ाई में ध्यान दे सके। किताबों में  लिखी जानकारी को ध्यान से पढ़े।

अगर कुछ भी याद नहीं हो रहा हो तो दिमाग से कोई trick बना लें जिससे कि वो जानकारी आपको याद रहे।use mind map for studies.

आपने देखा ही होगा कईं बार हम ऐसी tricksबना लेते हैं, जिससे कि वह जानकारी आसानी से दिमाग में  बैठ जाती है।

अपनी  कठिनाईयों और  Emotions को समझे (Acknowledge your resistance and difficult feelings with motivation)

How to motivate yourself to study  

आज के इस व्यक्त में  हर बन्दा जहाँ इतना busy हो गया है,जिससे मानसिक और शारीरिक सेहत पर बुरा असर पड़ रहा  है।

नकारात्मक भावनायें  हर कार्य में उत्पन्न हो जाती हैं।जो हमारे कार्य मे ही नहीं, उन्नति में  भी बाधक बन  जाती है। सबसे बढ़ा नुकसान बच्चों का हुआ है।

 online classes के चलते मन को केंद्रित करना मुश्किल हो रहा है। How to increase  motivation  to learn? इसका एक ही उपाये है। अपने अंदर उत्पन्न होने वाली विरोधाभासी भावनाओं को समझे। माता  पिता से बात करें।  

उन्हें  विस्तार से बताएँ, अपने अध्यापक की सहायता लें। खुल कर बात करें।इस तरह हर मुश्किल का समाधान निकलेगा और मन को भी संतुष्टि मिलेगी।

हार मत मानो, खुद को appreciate. करो(Never give up /Reward yourself )

How to motivate yourself to study  

 नकारात्मक विचार मन में  आना, अपने काम या पढ़ाई से दूर भागना,टाल मटोल करना, एक आम सी भावनायें हैं जो इस समय में  उत्पन्न होना स्वाभविक है।

परन्तु हमें  अपनी मुश्किलों से भागना नहीं  है, उनका डटकर मुकाबला करना है। अपने अंदर छिपी योग्यता तो पहचानना है, सँवारना है। अपने आप को appreciate करना है।

 अच्छे कार्य के लिये खुद की तारिफ करनी है। खुद से प्यार करना है। समझना होगा (How to motivate yourself  to learn) कि  ऐसा कोई कार्य नहीं जो हम नहीं कर सकते।

अपनी योग्यताओं को पहचानो(Don’t question your abilities)

How to motivate yourself to study  

बुरी  भावनाओं के चलते कईं सवाल हमारे सामने आकर खड़े हो जाते हैं। नकारात्मकता हावी होने लगती है। खुद को कमज़ोर समझने लगते है।

 मुझसे कुछ नहीं  हो पा रहा है। मैं कैसे पढ़ाई करुँ? मुझे कुछ याद क्यूँ  नहीं  रहता? इस तरह के प्रश्न जब मन  में  उठे, खुद से बात करो।

अपनी योग्यताओं के बारे में सोचो। अपनी सफलताओं के बारे में सोचो।तभी हम समझ पायेंगे किHow to increase motivation to learn?

समझकर पढ़ाई करें ,  रट्टाबाजी ना करें(Understand the topic,don’t just memorize it)

अपनी पूरी लग्न और  इच्छा शक्ती के साथ पढ़ने बैठे। शाँत और अनुकूलित वातावरण भी बहुत जरुरी है। विषय को भलीभांति समझे, रट्टा मारने की कोशिश ना करे।

 बिना समझे किसी भी कार्य को याद रख पाना possible नहीं है। कुछ ही देर में  भूल जायेंगे आप, जिस विषय पर  आपने समझने की कोशिश नहीं  की। कम पढ़े लेकिन जो भी पढ़े समझकर और  मन लगाकर पढ़े।

Two different learning process

  Students को पढ़ाई के लिए प्रेरित  करने के लिये बहुत ही विशेष बातों पर  समाधान दे चुके हैं हम, व्यवहारिक तौर पर ।

परंतु  अब हम ऐसी दो वैज्ञानिक तकनीक के बारे में  बात करेंगे जिसे अपनाकर सभी माता – पिता और  विद्यार्थियों की सभी समस्याओं को दूर किया जा सकता है। बशर्ते इच्छाशक्ति और लग्न में कोई कमी ना हो

1.Pomodoro Technique (How to make motivate yourself to study)

Pomodoro technique एक ऐसी technique है, जिसे अपनाकर students मन लगाकर पढ़ाई कर सकते हैं।

 1980 में  एक फ्रांसिस ने इस तकनीक की शुरुआत की थी। उसके बाद यह तकनीक अपनाई जाने लगी। पढ़ाई से जी चुराना, मन  ना लगना, समय व्यर्थ करने वाली सभी समस्याओं का समाधान मिल गया।

इस तकनीक के अनुसार सबसे पहले जो विषय पढ़ना है उसका सही से चुनाव करें। फिर उसके बाद मन लगाकर, पूरी concentration के साथ continue 25 min पढ़ाई करें और फिर 25 minके बाद 5min का break लें।

अपनी जगह से उठे, पढ़ाई के अलावा 5 min कुछ भी करें। थोड़ी exercise करें या Fresh हो जायें। जिससे दिमाग फिर से ताज़गी अनुभव करेगा। 5 min के बाद फिर से 25 min पढ़ाई करें,और फिर 5min का break. इस तरह आपको 4 बार ऐसा करना है । जिसमें  1 hour की पढ़ाई और  20 min का break मिलेगा।

Pomodoro Technique

1st Round.     25 min(Study)/ 5min ( Break)

2ndRound.     25 min(Study)/ 5 min( Break)

3rd Round.     25 min(Study)/ 5 min(Break)

4th Round.     25 min(Study)/ 5 min(Break)

और इस प्रकार आपकी समस्या का समाधान जरुर होगा।

Active Recall Technique : ‐

 Active Recall Technique यह तकनीक भी काफ़ी कारगर सिद्ध होती है जिनका मन पढ़ाई में  नहीं  लगता, वे  सभी ये तकनीक भी use कर सकते हैं। इस तकनीक के अनुसार आपको जो भी विषय करना है, उसके 10 pages को  अच्छे से समझ लें  और  फिर उसके बाद बिना देखे आपने जो भी पढ़ा है उसे Notebook में  लिखे। या फिर किसी को Dictate करें या समझायें।

इस प्रकार पढ़ाई करने से आप विषय को बहुत अच्छे से समझ सकते हैं अगर कुछ बीच में भूल भी जायें तो किताब खोलकर वही से पढ़े तो तुरंत याद आ जायेगा और  फिर से Notebook में लिखें। काफ़ी कारगर साबित हुई है ये तकनीक भी।

 अब मुश्किल ये आती है, कि  आजकल सभी पढ़ाई फ़ोन पर  ही होती है और बच्चों का मन  भटक जाता है, कभी खेलने लग जाते हैं  तो कभी music, तो कभी You tube इसका भी एक हल है, अपने फ़ोन में  App Blocker use करें। किसी भी app की जितनी भी timing रखेंगे, वह  app 24 hours में  उतना ही work करेगा।

इस तरह काफ़ी हद तक मोबाइल के प्रयोग पर  भी पाबंधी लगा सकते हैं। और  एक समय के बाद मोबाइल की आदत भी कम हो जायेगी।

Remember that studying can be challenging and take you out of your comfort zone.

How to motivate yourself  to study? ये एक ऐसा सवाल है जिस पर हम काफ़ी विवेचना कर चुके हैं  और  समझ चुके हैं कि  आपके मन  के अनुसार या इच्छा के अनुसार चलकर कोई भी लक्ष्य प्राप्त नहीं  किया जा सकता।

विशेषतः पढ़ाई करने के लिये धैर्य और  इच्छाशक्ति की बहुत जरुरत है। आपको अपने comfort zone से बाहर निकलकर अपने लिये सख्त नियम बनाने होंगे और  पढ़ाई करके ही अपने लक्ष्य को प्राप्त करना होगा।

हमेशा प्रेरित रहना possible नहीं (Don’t expect to feel motivated all the time)

जैसे कि  हम बात कर रहे हैं ,ये जानना बहुत आवशयक है कि हम लोग हर वक़्त motivate नहीं रह सकते। कुछ देर motivational vdos देखी या कोई लेख पढ़ा और  फिर हम motivate हो जाते हैं परंतु ये motivation ज्यादा समय तक नहीं  रहता।

फिर से पहले वाली स्थिति आ जाती है। हमें बार बार खुद को motivate करना पढ़ता है, और इसमें कुछ भी बुराई नहीं  है। सभी aspects  को ध्यान से अमल करें तो इससे बाहर आया जा सकता है।

प्रतिदिन योगा और कसरत करें (Exercise your brain/exercise regularly)

How to motivate yourself to study  

  How to motivate yourself to learn? इस सवाल का सबसे बढ़िया जवाब है, हर रोज़ योग और व्यायाम करें। शरीर और  मन को स्वस्थ रखें। नकारात्मकता स्वयं ही दूर होती चली जायेगी।

 इच्छाशक्ति बढेगी, अपने लक्ष्य को हासिल करने की। Meditation से concentration power बढ़ती  है।  memory तेज़ होगी। काफ़ी हद तक समस्याएँ दूर होने लगेगी।

ग्रुप में पढ़ाई करना या कोई भी कार्य करना (Study in group)

How to motivate yourself to study  

  ग्रुप में  पढ़ाई करने से motivation ज्यादा मिलता है। How to motivate yourself to study? इस सवाल का जवाब भी ग्रुप स्टडी में  छिपा है।

 सब मिलजुल कर पढ़ते हैं या कोई भी कार्य करते हैं तो मन लगा रहता है। पढ़ाई करने की इच्छा भी बनी रहती है।इधर-उधार मन नहीं  जाता। बशर्ते , ग्रुप स्टडी का main motive पढ़ाई हो होना चाहिये।

Visualise yourself doing the task  successfully.

How to motivate yourself to study  

खुद को अच्छी भावनाएँ दो। अच्छा सोचा तभी अच्छे और सफल कार्य हो पायेगें। खुद से कहना सीखो, मैं सब कुछ कर सकता हूँ? किसी भी कार्य को सुगमता से कर सकता हूँ।

 मुझमें बहुत योग्यता है, हर कार्य करने की। मैं  हर कार्य सफलता पूर्वक संपन्न करता हूँ। इस प्रकार आप खुद की ही मदद करते हैं। सकारात्मकता से ज़िंदगी में  भी खुशहाली आती है।

निष्कर्ष

सम्पूर्ण जानकारी का अध्ययन  करने के बाद इसी निष्कर्ष पर  पहुँचते हैं,कि Everything is possible in life. So , Think big, dream big, do, what you want to do. इसलिये पढ़ाई बहुत जरुरी है।

How to motivate  yourself  to study? इस प्रश्न का उत्तर आपकी मेहनत पर निर्भर करता है ।इच्छाशक्ति, लग्न, मेहनत और  धैय के साथ चलकर हम अपना मुकाम जरुर हासिल करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *