Home COMPUTER RAM Full Form in Hindi, Meaning, Types, Use

RAM Full Form in Hindi, Meaning, Types, Use

by Manish Sharma
RAM Full Form in Hindi

RAM Full Form in Hindi, Meaning, Types, Use

दोस्तो आप में से कई लोग ऐसे होंगे जो यह सोचते होंगे की RAM होता क्या है, RAM का पूरा मतलब क्या होता है,RAM कितने प्रकार के होते हैं, RAM की परिभाषा क्या होती है, RAM का उपयोग कहां कहां होता है,RAM के फायदे क्या है,RAM का आविष्कार किसने किया, तो आपके इन्हीं सवालों का जवाब आज मैं लेकर आया हूं तो दोस्तों आइए जानते हैं RAM के बारे में पूरी डिटेल में

RAM का पूरा मतलब (RAM Full Form in Hindi):
 का पूरा अर्थ होता है रेंडम एक्सेस मेमोरी (Random Access Memory)

RAM की परिभाषा (Defination of RAM in Hindi):
प्राथमिक स्टोरेज का उदाहरण RAM है। RAM चिप्स सिस्टिम युनिट के अंदर स्थापित होती हैं। RAM में संग्रहीत जानकारी अस्थायी रूप से जमा होती है। उदाहरण के लिए, जब कंप्यूटर पर काम करते समय कंप्यूटर बंद हो जाता है, तो आप कंप्यूटर को फिर से शुरू करने के बाद आपके द्वारा टाइप किया गया डेटा उपलब्ध नहीं हो पाता है। क्योंकि उस डेटा को RAM में संग्रहित किया जाता है। अगर कंप्यूटर बंद हो जाता है तो वह डेटा नष्ट हो जाता है। क्योंकि RAM अस्थायी रूप से जानकारी संग्रहीत करता है। इसलिए, आपके कंप्यूटर पर काम करते समय, आपके डेटा को समय-समय पर सहेजा जाना चाहिए।

RAM के प्रकार (Types of RAM in Hindi):
RAM मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं जो इस प्रकार है:

डी रैम ( D RAM): इसका पूरा मतलब होता है डायनामिक रेंडम एक्सेस मेमोरी (Dynamic Random Access Memory) इसमे डायनामिक (Dynamic) का मतलब होता है गतिशील होना यानी हमेशा परिवर्तित होते रहना। इसीलिए इस प्रकार के RAM को लगातार रिफ्रेश (Refresh) करना पड़ता है तब जाकर ही इसमें डाटा स्टोर किया जा सकता है। इस RAM को कैपेसिटर और कुछ ट्रांजिस्टर का उपयोग करके बनाया जाता है।

ROM Full Form in Hindi

एस रैम (S RAM): इसका पूरा मतलब होता है स्टैटिक रेंडम एक्सेस मेमोरी (Static Random Access Memory) इसमें स्टैटिक (Static) शब्द का अर्थ होता है स्थिर रहना। इस तरह के RAM में डाटा स्थिर रहता है यानी इसे बार-बार रिफ्रेश (Refresh) करने की जरूरत नहीं पड़ती। यह मेमोरी भी लगातार परिवर्तित होती रहती है। इसमें पावर जब तक ऑन रहता है तब तक डाटा मौजूद रहता है और जैसे ही पावर ऑफ होता है डाटा अपने आप डिलीट हो जाता है। इस मेमोरी को कैस (Cache Memory) मेमोरी के रूप में प्रयोग किया जाता है।

Computer Full Form in Hindi

डीडीआर एसडी रैम (DDR SDRAM): इसका पूरा मतलब होता है डबल डेटा रेट एसडी RAM (Double Data Rate SDRAM) यह एसडी RAM (SDRAM) का बिल्कुल नया  अवतार है। यह सैद्धांतिक रूप से मेमोरी क्लॉक स्पीड को बढ़ाकर 200 Megahertz (Mhz) या इससे भी ज्यादा ऊपर तक पहुंचा देता है। DDR1 और DDR2 इन दोनों ही तरह के RAM का चलन अब बंद हो चुका है वर्तमान समय में DDR3 और DDR4 RAM का प्रयोग ज्यादा होता है।

RAM का उपयोग (Use of RAM):

अगर बात की जाए इसके उपयोग की तो इसका उपयोग कंप्यूटर , लैपटॉप,मोबाइल सबसे अधिक किया जाता है।

RAM की खोज किसने की ? Who Invented RAM?

RAM यानी रेंडम एक्सेस मेमोरी (Random Access Memory) उपयोग सबसे पहले 1947 में किया गया था जिसका नाम विलियम ट्यूब (William Tube) रखा गया था। आजकल हम जिस RAM का उपयोग करते हैं उसका नाम है। सॉलि़ड स्टेट मेमोरी (Solid State Memory) इसे सबसे Robert Dennard ने 1968 में विकसित किया था।

मोबाइल के RAM और कंप्यूटर के RAM में क्या अंतर होता है (Difference Between Mobile and Computer RAM):

  • ज्यादातर मोबाइल फोंस में LPDDR RAM का इस्तेमाल होता है  वही कंप्यूटर्स में PCDDR RAM का इस्तमाल होता है।
  • LPDDR का फूल फॉर्म होता है लो पावर डबल डाटा सिंक्रोनस (Low Power Double Data Synchronous RAM वहीँ PCDDR का फूल फॉर्म होता है स्टैंडर्ड डबल डाटा सिंक्रोनस (Standard Double Data Synchronous RAM).
  • यह दोनों ही RAM एक दूसरे से बिल्कुल अलग होते हैं मोबाइल फोन के RAM को ज्यादा पावर सेव करने के लिए डिजाइन किया जाता है वहीं दूसरी तरफ कंप्यूटर के RAM को परफॉर्मेंस बढ़ाने के लिए डिजाइन किया जाता है

RAM के फायदे (Advantage of RAM in Hindi):

  • इससे कंप्यूटर सिस्टम और मोबाइल की गति यानि स्पीड बढ़ जाती है आपके कंप्यूटर या मोबाइल में  जितनी ज्यादा RAM होगी  उतनी ही ज्यादा आपके कंप्यूटर और  मोबाइल की स्पीड भी होगी। 
  • CPU  CD, DVD, FLOPPY DISK तथा USB की तुलना में RAM से जुड़े डाटा को तेजी से रीड (Read) कर पाता है। 
  • इसमें Power का बहुत कम उपयोग होता है जिससे Battery Life बढ जाती है।
  • इसमें किसी भी प्रकार के Moving Parts नहीं होते है अर्थात् इसके कोई भी Parts हिलते नहीं है।
  • इसमें Write तथा Erase दोनों ही तरह के ऑपरेशन को कर सकते हैं।

 

दोस्तों आशा करता हूं RAM Full Form in Hindi से जुड़ी यह जानकारी आप लोगों को पसंद आई होगी अगर ये पोस्ट आपको अच्छा लगे तो इसे अपने दोस्तों को शेयर और कमेन्ट जरूर करें और अगर आपके पास कोई सुझाव हैं तो हमें जरूर कमेन्ट सेक्शन में लिखकर बताएं।यदि आपका इससे सम्बंधित कोई सवाल है तो आप कमेंट बॉक्स में  लिखकर  बता सकते हैं , हम आपके सवालों के जवाब देने की पूरी कोशिश करेंगे।

Other Related Full Forms in Hindi:

S.NONAME
1ROM Full Form in Hindi
2RAM Full Form in Hindi
3COMPUTER Full Form in Hindi
4UPSC Full Form in Hindi
5IAS Full Form in Hind
6IPS Full Form in Hindi
7JCB Full Form in Hindi
8BMW Full Form in Hindi
9ATM Full Form in Hindi
10HDFC Full Form in Hindi
11ICICI Full Form in Hindi
12NDRF Full Form in Hindi
13DSP Full Form in Hindi
14RIP Full Form in Hindi
15FIR Full Form in Hindi
16CAA Full Form in Hindi
17NRC Full Form in Hindi
18RTI Full Form in Hindi
19MRI Full Form in Hindi
20ECG Full Form in Hindi
21BDS Full Form in Hindi
22MBBS Full Form in Hindi

 

Link:

Related Articles

Leave a Comment

Translate »