जाने SUBORNO BARI कैसे SOBORNO ‘ISAAC’ BARI बन गया?

“SOBORNO BARI ” एक ऐसा बच्चा जो किसी चमत्कार से कम ना था।कुछ लोग किसी चमत्कार के होने के इंतजार में अपनी पूरी जिंदगी बिता देते हैं, लेकिन SOBORNO BARI का जन्म एक प्राकृतिक प्रतिभा के साथ हुआ था, जो किसी चमत्कार से कम नहीं है।  8 साल की उम्र में  वह बच्चा  “Professor” बन गया। जिसे  “Sir  Issac  Newton” के बाद “Soborno Issac Bari” के नाम से जाना जाता है।  वह विश्व स्तर पर सबसे

कम उम्र के प्रोफेसर हैं, और लोग उन्हें हमारे समय के Einstein के रूप में जानते हैं।  SOBORNO एक बंगाली-अमेरिकी विलक्षण हैं और उन्होंने एक किताब भी लिखी है जिसका उद्देश्य शांति और खुशी फैलाना है।

SOBORNO BARI BIO

*नाम : सोबोर्नो इसहाक बारी
*उपनाम: आइंस्टीन
*जन्मतिथि:9 अप्रैल 2012
*उम्र :9 साल (अप्रैल 2021 तक)
*जन्मस्थान :न्यूयॉर्क, अमेरिका
*गृहनगर :न्यूयॉर्क, अमेरिका
*माँ :शहेदा बारी
*पिता :रशीदुल बारी
*राष्ट्रीयता :भारतीय
SOBORNO ‘ISAAC’ BARI

Soborno Bari  से  Soborno Issac Bari तक की यात्रा

SOBORNO BARI ने 6 महीने की उम्र में ही अच्छी तरह से बोलना शुरू कर दिया था।  जब वह 2 साल के थे, तब उनके माता-पिता ने देखा कि वह भौतिकी(Physics), गणित(Mathematics)और रसायन विज्ञान(Chemistry)की समस्याओं को बहुत जल्दी हल कर देते थे।

उन्होंने सोशल मीडिया पर उसके वीडियो साझा करना शुरू कर दिया, जिसने शुरुआत में न्यूयॉर्क के कुछ स्थानीय टीवी चैनलों का ध्यान खींचा। 

युवा प्रतिभा, SOBORNO को तब VOICE OF AMERICA (VOA) द्वारा एक INTERVIEW के लिए और उनकी शानदार क्षमताओं का परीक्षण करने के लिए आमंत्रित किया गया था।  वह VOA के साथ बातचीत करने वाले अब तक के सबसे कम उम्र के व्यक्ति हैं।

एक शानदार बच्चा (A BRILLIANT CHILD)

 SOBORNO के माता-पिता को एक संदेश मिला, जिसमें उनसे  “Sir  Issac  Newton”  के बाद अपना नाम “ISSAC” में बदलने का अनुरोध किया गया था। 

हालाँकि, उनके माता-पिता ने शुरू में इस पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया, लेकिन जल्द ही उन्हें अपने बेटे की क्षमता का पता चला और वह “SOBORNO ISSAC BARI” बन गया।

“SOBORNO ISSAC BARI “ग्लोबल चाइल्ड प्रोडिजी अवार्ड (GLOBAL CHILD PRODIGY AWARD)2020 का प्राप्तकर्ता

  GLOBAL CHILD PRODIGY    विभिन्न देशों और अलग अलग ,पृष्ठभूमि की प्रतिभाओं को पहचानने वाला विश्व स्तर

पर पहला और एकमात्र संगठन है। GCP पुरस्कारों की सूची में वे बच्चे शामिल होते हैं, जिनकी रुचि के क्षेत्र में अत्यधिक योग्यता है, जैसे पेंटिंग, मॉडलिंग, लेखन, उद्यमिता, मार्शल आर्ट, संगीत, सामाजिक कार्य, आदि।

GLOBAL CHILD PRODIGY AWARD)2020  “SOBORNO ISSAC BARI.”

को उनकी बुद्धिमत्ता के लिए जनवरी 2020 में ग्लोबल चाइल्ड प्रोडिजी अवार्ड मिला।  वह दुनिया के शीर्ष 100 बाल PRODIGY में भी शामिल थे।

 अविलक्षण  प्रतिभा के धनी “SOBORNOISSAC BARI ” आज विश्व के सामने किसी चमत्कार से कम नहीं  है। ऐसी प्रतिभा का जन्म, पूरे विश्व के लिये एक आशीर्वाद है, जो विश्व की व्यवस्था को और  भी उन्नतशील बनाने में  सहयोग करती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *